0 Comments

जिसकी याद में खर्च कर दी ज़िन्दगी हमने,वो ही शक्स आज हमें ग़रीब कहकर चल गया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *