0 Comments

इश्क़ का रंग और भी गुलज़ार होजाता।  जब दो शायरों को एक दूसरे से प्यार होजाता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *